पानी है जीवन का रस          

इसके बिन नहीं जी सकते बस 

पानी आता है दूर दूर से 

नदियों से , तालाबों से, और ऊंचें ऊंचें पहाड़ों से 

बारिश देती  है सब में पानी,

और कभी – कभी याद दिलाती हम सबको अपनी नानी 

कोई तो हमें बताए

कि इस पानी को कैसे बचाएँ ?

पानी लाता है खेतों में हरियाली

इससे होती है देश में खुशहाली

पानी ने बिजली को बनाया 

और बिजली ने उद्योगों को चलाया। 

सबको पानी नहीं मिलता इतना, 

तो फिर क्यों करते है व्यर्थ हम इतना ?

नल क्यों छोड़ देते हैं हम खुला ?

इससे होगा किसका भला ? 

गंदे पानी से होती है सबको हानि 

फिर क्यों करते है हम प्रदूषित पानी 

अब हमारी हो गयी है इतनी बुरी दशा 

पानी की हम कैसे करेंगे रक्षा 

अगर  एक जुट हम हो जाएं 

पानी को बचाने के मार्ग  सुझाएँ 

वर्षा जल संचय के उपाय निकालें 

और पानी को हम  रिसाइकिल करें 

कोई तो हमें बताए

कि इस पानी को कैसे बचाएँ ?

कोई तो हमें बताए

कि इस पानी को कैसे बचाएँ ?

आनंदिता शेनॉय 7 B

AVM JUHU