फाइनल मैच

मेरा अनुभव है एक फुटबॉल प्रतियोगिता के मैच का । कुल मिलाकर प्रतियोगिता में सात मैच थे, परन्तु मेरे बीमारी के कारण, में केवल चार मैच खेल पाया ।
वह तीन मैच न खेल कर मुझे लगा की मैंने अपनी टीम को आड़े वक्त पर दगा दिया था । पर वे तीनों मैच जीत गए । मैं फूला न समाया कि मेरी टीम वह तीनो मैच जीत गयी । मैं बेहद खुश था कि हम फाइनल में पहुंचने में सफल रहे ।
ठीक होकर, मैंने वह आखरी मैच मेरी टीम के साथ खेला ।
यह एक बहुत रोमांचक खेल था और हम अंतिम लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल करने में सक्षम थे । इससे मैंने सीखा कि एकता और आत्मविश्वास में बल है । अंत में हमने विजय ही पाया । यह मेरे जीवन का एक अत्यंत महत्वपूर्ण अनुभव था ।

  • राज ब्रोकर ‘८ ‘ – ‘ बी ‘