अनुभव – जीवन का सबसे बड़ा शिक्षक

शान्ति स्थिर स्थल में,

यह अहसास   हमें  बहलाता  हैं ,

अनुभव   की  सीखों  में,

यह  जीवन  आकर  लेता  हैं।I 
बुरे   कर्म   करने   पर, ग्लानि सिखाता  हैं,

खुशी बाँटने पर,ह्रदय पिघलाता हैं।I 
रब की दुआ में मगन,विश्वास रखना सिखाता है,

मस्त,आशाओं के गगन में,प्यार करना दर्शाता हैं।I  
सोच में खोये हम,अपने आप को ढूंढ़ते हैं,

अनुराग को खो बैठे हम,

अपने-आप को रूलाता हैं,हारते है जब हम,

विश्व में प्राणियों के हर अनुभव से सीख लेते है हम।I 

अंधेर की नगरी पार करवाता है,हमें सुख देता हैं,

जीवन जीना, हमें अनुभव सिखाता हैं। 
महक गुप्ता

 कक्षा : १० बी 

AVM JUHU