अनुभव जीवन का सबसे बड़ा शिक्षक

अनुभव जीवन का सही रूप में शिक्षक है। पुस्तक से प्राप्त विद्या हम सीखते हैं परंतु अनुभव  हमारा मार्गदर्शन करता है ।पुस्तक की विद्या कदापि हम भूल जाएं किंतु अनुभव की शिक्षा जीवन भर याद रहती है ।अनुभव हमेशा अच्छे नहीं होते। कई बार हार के किस्से भी होते हैं ,तभी तो अगली बार हम सफल होते हैं क्योंकि हमने अपनी हार को जीत में बदलने का मार्ग ढूंढ लिया है ।अक्सर व्यक्ति की परख करने के लिए अच्छे या बुरे अनुभवों की आवश्यकता होती है। अनुभव से हमारी सहनशीलता भी बढ़ती है।किसी खेल में अगर हमारी हार हो या हमें चोट लगे तो इस अनुभव को याद रख कर हम अगली बार ज्यादा मेहनत करेंगे और जीतेंगे ।अनुभव हमें प्रेरणा भी देता है ।जब बहुत संघर्ष के बाद उसका मीठा फल मिले तो हमें यह संघर्ष सदैव याद रहता है ।अगर किसी परिस्थिति में हमने हार मान ली तो उस संघर्ष का अनुभव हमें याद आता है ,जिससे हमें मेहनत करने की प्रेरणा मिलती है ।सफल व्यक्तियों की जीवन कथा और उनका अनुभव हमें बेहतर प्रयास करते रहने की ताकत और हौंसला देते हैं। एक अनुभव से कई अनुभवों का निर्माण होता है ।अच्छे बुरे सभी अनुभव हमें हमेशा अपने साथ रखना चाहिए क्योंकि जीवन के हर कदम पर हमारी सहायता करते हैं और हमारे और हमें रास्ता दिखाते हैं ।

अवनी वेंकटेश

नौंवी ब


आर्य विद्या मंदिर बांद्रा( पूर्व )